Monday, December 5, 2011

हमें गर्व है की हम भारतीय हैं

1) सन माईक्रोसिसटमस (Sun MicroSystems ) के को-फाउंडर विनोद खोसंला भारतीय हैं ।
2) पेंटियम चिप ( Pentium ) के निर्माता विनोद धम भारतीय हैं ।
3)विश्व का तीसरा सबसे अमीर व्यक्ति लक्ष्मी मित्तल भारतीय हैं ।( Fortune पत्रिका के अनुसार )
4)बेब आधारित ई-मेल में हॉट मेल प्रथम है, इसके निर्माता सबीर भाटिया भारतीय हैं ।
5)एटी एंड टी बैल लेबोरेट्री जहाँ कम्पुटर की भाषा C , C++ , Unix बनी वहाँ के
प्रेसिडेंट ( President ) अरुन नेत्रावली भारतीय हैं ।
6)Hewlett Packard के जनरल मैनेजर राजीव गुप्ता भारतीय हैं ।
7)माइक्रोसोफ्ट के Testing Director of Windows 2000 सजंय तेजवरिका भारतीय हैं ।
8)सिटी बैंक , Mckensey और Standard chart के Chief Executives क्रमश विक्टोर मेनेजेस , रजत गुप्ता और राना तलवार सभी भारतीय है।
9)अमेरीका में 32.2 लाख भारतीय हैं (1.5% अमेरीका की जनसंख्या)
साथ ही
38% डाक्टर अमेरीका में , भारतीय हैं ।
12% वैज्ञानिक अमेरीका में , भारतीय हैं ।
36% नासा के वैज्ञानिक भारतीय हैं ।
34% माइक्रोसोफ्ट के कर्मचारी भारतीय हैं ।
28% IBM के कर्मचारी भारतीय हैं ।
17% INTEL के वैज्ञानिक भारतीय हैं ।
13% XEROX के कर्मचारी भारतीय हैं ।
10)जब कई संस्कृतियाँ 5000 साल पहले घुमंतू वनवासी थीं, भारतीय सिंधु घाटी (सिंधु घाटी सभ्यता) में हड़प्पा संस्कृति की स्थापना हुई।
11)भारत का अंग्रेजी में नाम ‘इंडिया’ इंडस नदी से बना है, जिसके आस पास की घाटी में आरंभिक सभ्यंताएं निवास करती थीं। आर्य पूजकों में इस इंडस नदी को सिंधु कहा गया ।
12) शतरंज की खोज भारत में की गई थी।
13)बीज गणित, त्रिकोण मिति और कलन का अध्य्यन भारत में ही आरंभ हुआ था।
14)‘स्था न मूल्यो प्रणाली’ और ‘दशमलव प्रणाली’ का विकास भारत में 100 वर्ष ईसा पूर्व में हुआ था।
15)भारत विश्व का सबसे बड़ा लोकतंत्र और विश्व का छठवां सबसे बड़ा देश तथा प्राचीन सभ्यभताओं में से एक है।
16)भारत में, विश्व भर से सबसे, अधिक संख्या में डाक घर स्थित हैं।
17)विश्व का सबसे बड़ा नियोक्ता भारतीय रेल है, जिसमें दस लाख से अधिक लोग काम करते हैं।
18)विश्वम का प्रथम विश्वंविद्यालय 700 वर्ष ईसा पूर्व, तक्षशिला में स्था पित
किया गया था। इसमें 60 से अधिक विषयों में 10,500 से अधिक छात्र दुनियाभर से
आकर अध्यन करते थे। नालंदा विश्ववविद्यालय चौथी शताब्दी, में स्था पित किया गया था जो शिक्षा के क्षेत्र में प्राचीन भारत की महानतम उपलब्धियों में से एक है।
19)आयुर्वेद मानव जाति के लिए ज्ञात सबसे आरंभिक चिकित्सा शाखा है। शाखा विज्ञान के जनक माने जाने वाले चरक ऋषि नें 2500 वर्ष पहले आयुर्वेद का समेकन किया था।
20) भारतीय गणितज्ञ बुधायन द्वारा ‘पाई’ का मूल्य ज्ञात किया गया था और उन्होंने जिस संकल्परना को समझाया उसे पाइथागोरस की प्रमेय करते है

No comments:

Post a Comment